शीशम झाड़ी क्षेत्र में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए डीएम ने तीन मिनी कंटेनमेंट जोन किए घोषित

शीशम झाड़ी क्षेत्र में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए डीएम ने तीन मिनी कंटेनमेंट जोन किए घोषित

गत दिवस इस इलाके से कोरोना के 30 मामले सामने आने के बाद प्रशासन अलर्ट

गढ़ निनाद न्यूज़* 7 अगस्त 2020

नई टिहरी: शीशम झाड़ी मुनिकीरेती क्षेत्र में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए तीन मिनी कंटेनमेंट जोन घोषित किए जा चुके हैं। गत दिवस तक इन तीन कंटेनमेंट जोन से  कोरोना संक्रमण के लगभग 30 मामले सामने आ चुके हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने शुक्रवार को मौके पर जाकर तीनों कंटेनमेंट जोनों का निरीक्षण किया किया। 

बच्चों से बूढ़ों तक सबका सैम्पल जांच को भेजें

इस दौरान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉक्टर योगेंद्र सिंह रावत भी उपस्थित रहे। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने स्वास्थ विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि कंटेनमेंट जोन के प्रत्येक व्यक्ति बुजुर्गों से लेकर बच्चे तक का सैंपल जांच हेतु लैब भेजा जाए। वही शीशम झाड़ी क्षेत्र के ऐसे विभिन्न नाको जो ऋषिकेश या आस्था पथ की तरफ खुलते हों को पूर्णता बंद किए जाने के निर्देश मौके पर दिए।  

कंटेन्मेंट जोन में प्रवेश प्रतिबंधित

जिलाधिकारी ने यह भी स्पष्ट किया कि अनावश्यक व्यक्ति किसी भी दशा में कंटेनमेंट जोन में प्रवेश न करने पाए। वही बफर जोन में गतिविधियां यथावत रहेगी। 

डीएम ने ली बैठक

इसके उपरांत जिलाधिकारी ने नगर पालिका परिषद मुनी की रेती सभागार में आयोजित बैठक में स्वास्थ्य विभाग व तमाम फ्रंटलाइन वर्कर्स को निर्देश दिए कि वे बिना पीपीई किट के  किसी भी दशा में कंटेनमेंट जोन में प्रवेश ना करें। कंटेनमेंट जोन में रह रहे व्यक्तियों को आवश्यक खान-पान की वस्तुओं की कोई कमी ना हो इस हेतु पूर्ति विभाग, राजस्व,  पुलिस विभाग के अधिकारियों को संयुक्त रूप से टीम के रूप में कार्य करने के निर्देश दिए हैं। 

28 दिन तक चलेगा एक्टिव सर्विलांस 

जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि अगले 28 दिन तक कन्टेनमेंट जोन में प्रत्येक दिन एक्टिव सर्विलांस  चलाया जाए। 

सर्विलांस के लिए 7-10 अतिरिक्त टीमों की तैनाती

शीशम झाड़ी क्षेत्र में एक्टिव सर्विलांस व स्क्रीनिंग का कार्य के लिए स्वास्थ्य विभाग की 7 से 10 अतिरिक्त टीमो की तैनाती के भी निर्देश दिए हैं। कंटेनमेंट जोन सहित बफर जोन व शीशम झड़ी क्षेत्र में मास्क न पहनने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही के साथ ही जागरूकता अभियान चलाये जाने के निर्देश दिए। 

बिना चिकित्सक परामर्श के दवा देने वाले मेडिकल स्टोर के खिलाफ कार्यवाही

जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी नरेंद्र नगर  युक्ता मिश्र को निर्देश दिए कि विगत 10 दिनों में मेडिकल स्टोर द्वारा बेची गई बुखार व पेरासिटामोल जैसी दवाओं की जानकारी प्राप्त करें तथा कोरोना पॉजिटिव केस वाले व्यक्तियों को बिना चिकित्सक परामर्श के बुखार या पेरासिटामोल जैसी दवा देने वाले मेडिकल स्टोर संचालक के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाए। 

टूरिस्ट का रैपिड एंटीजन टेस्ट कराने के भी निर्देश

इसके अलावा मुनी की रेती में प्रवेश करने वाले प्रत्येक टूरिस्ट का रैपिड एंटीजन टेस्ट कराने के भी निर्देश दिए गए हैं।  

एसएसपी ने कहा खुद की सुरक्षा का भी रखें ख़्याल

बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने में तैनात पुलिस सहित तमाम फ्रंट लाइन वर्कर्स को दूसरों की सुरक्षा के साथ-साथ स्वयं की सुरक्षा को भी प्राथमिकता देनी होगी। 

इस दौरान डीएसपी उत्तम सिंह नेगी, सीओ प्रमोद कुमार शाह, सीएमएस डीएच बौराड़ी डॉ अमित राय, सीएमएस एसडीएच नरेंद्र नगर डॉक्टर अनिल नेगी, डॉक्टर एलडी सेमवाल, ईओ नगर पालिका परिषद मुनी की रेती बद्री प्रसाद भट्ट, नगर पालिका अध्यक्ष रोशन रतूड़ी, पुलिस विभाग के आर०के०सकलानी, वीरेंद्र कुमार नगर पालिका के सभासद व अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।