लुदर सिंह की भैंस, जमीन निगल गई या–

लुदर सिंह की भैंस, जमीन निगल गई या–

नीन्द में  है राजस्व पुलिस ?

रिवर्स पलायन को पलिता लगाने की तैयारी?

गढ़ निनाद न्यूज़* 17 अक्टूबर 2020

बूढ़ाकेदार/ नई टिहरी। गढ़ निनाद ब्यूरो। 

बूढ़ा केदार (टिहरी) बालगंगा तहसील के निवालगांव से गत 26 सितंबर की रात तीन भैंसें लापता हो गई। भैंस पालकों ने 27 सितंबर को चोरी की आशंका जताते हुए राजस्व पुलिस चौकी बूढ़ा केदार को लिखित सूचना दी थी। पुलिस को भी सूचना दी गई। तीन सप्ताह बीतने को है मामले पर पर्दा पड़ा है। मानो भैंस ना हुई किसी जादूगर का कबूतर थी, छूमंतर हो गई । 

निवालगांव थाती कठूड़  निवासी लुदर  सिंह गुनसोला और महिपाल बिष्ट के परिवार की आजीविका का संसाधन है खेती और पशुपालन। यह उनके लिए पर्याप्त है, इसलिए उनको पलायन के लिए विवश नहीं होना पड़ा। लुदर सिंह की दो और महिपाल की एक भैंस 26 सितंबर की रात कथित रूप से चुरा ली गई। 

लुदर सिंह के बेटे धनपाल के अनुसार उसके पिता ने राजस्व पुलिस के क्षेत्रीय बूढ़ा केदार उपनिरीक्षक को इसकी लिखित तहरीर दी थी। लेकिन उसकी शिकायत लगभग दो सप्ताह तक ऑन  रिकॉर्ड दर्ज नहीं की गई। धनपाल के अनुसार पुलिस ने अपनी तरफ से जांच की है । बताया कि संदिग्ध व्यक्ति पुलिस के रडार पर है। लेकिन मामला राजस्व पुलिस क्षेत्र का है इसलिए पुलिस सीधे हस्तक्षेप नहीं कर सकती है। 

बताया जाता है कि ऐसी घटनाएं यहां पहले भी हो चुकी हैं। विकास की बहक सड़कें जैसे-जैसे पहाड़ चढ़ रही हैं, अपराध भी बढ़ रहे हैं। यदि यही हाल रहे तो सरकार की रिवर्स पलायन योजना की भैंस गई पानी में!

Similar Posts:

    None Found