स्वामी विवेकानंद जयंती: कोटद्वार महाविद्यालय में राज्य स्तरीय निबंध प्रतियोगिता एवं राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन

स्वामी विवेकानंद जयंती: कोटद्वार महाविद्यालय में राज्य स्तरीय निबंध प्रतियोगिता एवं राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन

कोटद्वार: डॉ० पी० द० ब० हि० राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, कोटद्वार में स्वामी विवेकानंद जी की जयंती के अवसर पर राज्य स्तरीय निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रभारी प्राचार्य डॉ० अभिषेक गोयल ने बताया कि “स्वामी विवेकानंद जी के विचारों की उत्तराखंड राज्य के संबंध में प्रासंगिकता” विषय पर आयोजित निबंध प्रतियोगिता में छात्र/छात्राओं ने बड़े उत्साह के साथ प्रतिभाग किया।

महाविद्यालय द्वारा कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुए समस्त प्रतियोगिता संपन्न कराई गई। प्रतियोगिता हेतु 134 छात्रों ने पंजीकरण कराया था। महाविद्यालय के 86 प्रतिभागियों ने निबंध प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया। महाविद्यालय से चयनित 3 निबंध को उच्च शिक्षा के शिविर कार्यालय प्रेषित किया जाएगा। जिसमें से उत्तराखंड के विभिन्न महाविद्यालयों से आए सर्वश्रेष्ठ तीन निबंधों को प्रथम पुरस्कार ₹100000 द्वितीय पुरस्कार ₹75000 पुरस्कार ₹50000 प्रदान किए जाएंगे। पुरस्कार वितरण दिनांक 23 जनवरी को सुभाष चंद्र बोस जी की जयंती पर किया जाएगा।

निर्णायक मंडल में डॉ० योगिता, डॉ० रोशनी असवाल, डॉ० शोभा रावत, डॉ० सुनीता नेगी, डॉ० अमित गौड़ आदि मौजूद रहे। जिन्होंने प्रतियोगिता में उपस्थित छात्र-छात्राओं के निबंध का मूल्यांकन किया।

राष्ट्रीय युवा दिवस: स्वामी विवेकानंद जी के विचारों पर राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन

राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर महाविद्यालय में स्वामी विवेकानंद जी के विचारों पर राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन भी किया गया। संगोष्ठी का संचालन डॉ० एस के गुप्ता ने किया। कार्यक्रम के संयोजक डॉ० किशोर सिंह चौहान ने स्वामी विवेकानंद जी के शिकागो सम्मेलन में संबोधन को युवाओं के लिए अनुकरणीय बताया और बताया कि हमारे युवाओं को स्वामी विवेकानंद जी के विचारों को अपना कर आगे बढ़ना होगा।

एनएसएस की कार्यक्रम अधिकारी डॉ० अर्चना वालिया ने स्वामी विवेकानंद जी द्वारा विश्व धर्म सम्मेलन में अपने संबोधन द्वारा दिए गए शब्दों को कविता के माध्यम से व्यक्त किया।

प्रभारी प्राचार्य अभिषेक गोयल ने युवाओं को बताया कि हमें अपने दैनिक जीवन में अगर सफल होना है तो स्वामी विवेकानंद जी के विचारो का अनुसरण करना होगा। संगोष्ठी के समापन पर वरिष्ठ प्राध्यापक डॉ० सीमा चौधरी ने सभी प्रतिभागियों की सराहना की और इस अवसर पर उपस्थित सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।

महाविद्यालय रोवर्स-रेंजर्स प्रभारी डॉ० अजीत सिंह ने भी सभी प्रतिभागियों की सराहना की। महाविद्यालय एनसीसी प्रभारी डॉ० तनु मित्तल ने एनसीसी कैडेट्स को राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर युवक होने के नाते समाज का पथ प्रदर्शक बनने की प्रेरणा दी।

इस अवसर पर महाविद्यालय के वरिष्ठ प्राध्यापक, कर्मचारीगण, एनसीसी कैडेट सहित अन्य छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।

Related News
सामूहिक हवन और खिचड़ी के साथ मनाया गया मकर सक्रांति का पर्व

देहरादून: आज दिनांक 14-01-2021 मकर सक्रांति के पावन अवसर पर राष्ट्र सेविका समिति की सदस्यों ने ब्राह्मणवाला (रोचीपूरा) देहरादून में Read more

आस्था-विश्वास का प्रतीक पर्व – मकर संक्रान्ति

- डॉ. सुरेन्द्र दत्त सेमल्टी ग्राम/पो.पुजार गाँव(चन्द्र वदनी) गढ़ निनाद समाचार* 14 जनवरी 2021।  नई टिहरी । हमारे देश मे Read more

वैचारिक योद्धा बनायेंगे भारत को विश्व गुरु: मुकुल कानिटकर

भारतीय शिक्षण मंडल ने मनाया स्वामी विवेकानंद की 158 वीं जयंती पर राष्ट्रीय युवा दिवस 13 जनवरी (नागपुर): भारतीय शिक्षण Read more

रक्त दान से महाविद्यालय कोटद्वार में युवा पखवाड़े की शुरूवात

महाविद्यालय में विवेकानंद जयंती से सुभाष चंद्र बोस जयंती तक युवा पखवाड़ा तक मनाया जा रहा है कोटद्वार: डॉ० पी० Read more