स्वर्ण प्राशन से बच्चों में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है-डॉ. बिपिन चन्द्र

स्वर्ण प्राशन से बच्चों में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है-डॉ. बिपिन चन्द्र

गढ़ निनाद न्यूज़* 15 सितम्बर 2020 

चमोली। मृत्युंजय क्लीनिक एवं मर्म चिकित्सा केंद्र गढ़ी पीपल कोठी में सोमवार को स्वर्ण प्राशन कराया गया। इसमें 45 बच्चों ने स्वर्ण प्राशन का लाभ लिया। क्लीनिक के चिकित्सक डॉ बिपिन चंद्र ने बताया कि स्वर्ण स्वर्ण प्राशन आयुर्वेदिक इम्यूनाइजेशन है जिसका वर्णन सर्वप्रथम आयुर्वेदिक के प्रसिद्ध ग्रंथ कश्यप संहिता में किया गया है। 

स्वर्ण प्राशन से बच्चों में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। बौद्धिक विकास होता है, स्मरण शक्ति बढ़ती है, पाचन शक्ति बढ़ती है तथा अन्य अनेक लाभ होते हैं। यह जन्म से 16 साल तक के बच्चों में महीने में एक विशेष दिन पुष्य नक्षत्र में कराया जाता है। 

डॉक्टर ने बताया स्वर्ण प्राशन बच्चों के लिए विशेष लाभकारी होने के कारण इसका लाभ प्रत्येक बच्चों को मिलना चाहिए। इस शिविर में फार्मेसिस्ट श्रीमती सुमन भी उपस्थित थी।

Similar Posts:

    None Found