सत्य, अहिंसा और सर्वधर्म समभाव से ही होगी विश्व में शान्ति: डा0 ध्यानी

सत्य, अहिंसा और सर्वधर्म समभाव से ही होगी विश्व में शान्ति: डा0 ध्यानी

गढ़ निनाद न्यूज* 2 अक्टूबर 2020।

नई टिहरी। श्रीदेव सुमन उत्तराखण्ड विश्वविद्यालय के कुलपति डा0 पीताम्बर प्रसाद ध्यानी द्वारा विश्वविद्यालय मुख्यालय में गांधी एवं शास्त्री जयन्ती के उपलक्ष्य में ध्वजारोहण किया गया। जिसमें विश्वविद्यालय के अधिकारीगण, कर्मचारीगण तथा राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के समस्त अध्यापकगण उपस्थित रहे।

डा0 ध्यानी द्वारा कार्यक्रम में गांधी जी एवं शास्त्री जी के जीवन वृत्त पर विस्तृत रूप से प्रकाश डालते हुये, उनके जीवन संघर्ष, उनकी देश सेवा और उनके जीवन मूल्यों से सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को अवगत कराया गया। डा0 ध्यानी द्वारा गांधी जी के जीवन काल में घटित अनेकानेक घटनाओं पर भी प्रकाश डाला गया। कहा कि  गांधी जी द्वारा बडे बडे उद्योगों को नही छोटे छोटे उद्योगो को महत्व दिया गया जैसे चरखे द्वारा सूत कताई, बुनाई आदि।  स्वच्छ भारत भी उनकी प्राथमिकताओं में था। गांधी जी ने सत्य, अहिंसा और सर्वधर्म समभाव के दम पर अंग्रेजों से देश को आजाद करवाया। 

आज पूरी दुनिया उन्हे सत्य और अहिंसा के प्रतिबिम्ब के रूप में देखती है। अपने सादा जीवन और उच्च विचारों के चलते उन्होने विश्व को सत्य और अहिंसा की ताकत से परिचित कराया।  डा0 ध्यानी ने कहा कि हम सभी भारतीयों के लिये यह अत्यन्त गौरव की बात है कि आज पूरी दुनिया ’’अन्तरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस’’ के रूप में मना रही है। उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 15 जून, 2007 को गांधी जी के अमूल्य योगदान को देखते हुये 02 अक्टूबर को ’’अन्तरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस’’ पूरे विश्व में मनाने की घोषणा की थी।

इस अवसर पर उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के प्राचार्य भागवत सिंह चौहान, रश्मि , विश्वविद्यालय के सहायक परीक्षा नियंत्रक डा0 हेमन्त बिष्ट, वी0एल0आर्य, प्र0 निजी सचिव कुलपति कुलदीप सिंह नेगी, मनोज, अमित सजवाण, रविन्द्र कुमार, महाजन सिंह, नीरज, धीरेन्द्र, संजीव, रामकृष्ण उनियाल, विकास सेमवाल, विजय लाल, कुलदीप सिंह, देवेन्द्र दत्त बहुगुणा आदि उपस्थित रहे।

Similar Posts:

    None Found