गंगोत्री धाम के बाद आज केदारनाथ के कपाट 6 माह के लिए बंद

गंगोत्री धाम के बाद आज केदारनाथ के कपाट 6 माह के लिए बंद
Please click to share News


गंगोत्री धाम के बाद आज केदारनाथ के कपाट 6 माह के लिए बंद

रूद्रप्रयाग * गढ़ निनाद ब्यूरो

गंगोत्री धाम के बाद आज केदारनाथ के कपाट बंद। अब छह माह तक केदारनाथ की पूजा ओमकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ में होगी।

कल गंगोत्री धाम के कपाट बंद होने के बाद आज श्रीकेदारनाथ जी के कपाट आज सुबह भैयादूज के शुभ अवसर विधी विधान से शीतकाल के लिए बंद कर दिये गये हैं। मंदिर के मुख्य रावल भीमाशंकर ने स्वंयभू ज्योतिर्लिंग को समाधी रूप देकर भस्म से ढक दिया। सुबह 5:30 पर बाबा की पंचमुखी भोग मूर्ती का श्रंगार कर मूर्ती को चल विग्रह डोली मे रखकर भक्तों के दर्शनों के लिए रखा गया। डोली अपने शीतकालीन गद्दीस्थल ओमकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ के लिए प्रस्थान कर गयी है।

श्री केदार की उत्सव डोली आज अपने पहले पड़ाव रामपुर मे रात्री विश्राम करेगी और 31 अक्टूबर को अपनी शीतकालीन गद्दीस्थल ऊखीमठ पहुंचेगी जहां छह माह तक केदारनाथ की पूजा ओमकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ मे होगी। प्रशासन और बद्रीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के अधिकारियों की मौजूदगी मे केदारनाथ के कपाट बंद करने के बाद चाबी उप जिलाधिकारी ऊखीमठ को सौंपी गयी।

आज सुबह 8:55 पर बाबा केदार की डोली गढ़वाल रेजीमेंट के बैंड और हजारों श्रद्धालुओं के साथ अपने शीतकालीन गद्दीस्थल ओमकारेश्वर के लिए प्रस्थान कर गयी। रात्री विश्राम डोली रामपुर मे करेगी जहां गढ़वाल सांसद तीरथ सिंह रावत डोली की अगुवाई करेंगे। बीकेटीसी के कार्याधिकारी एनपी जमलोकी ने बताया कि श्रीकेदार की डोली कल बुधवार को रामपुर से होकर काशी विश्वनाथ मंदिर गुप्तकाशी पहुंचेगी और रात्री विश्राम कर 31अक्टूूबर को अपने शीतकालीन गद्दीस्थल ओमकारेश्वर मंदिर मे विराजमान होगी।


Please click to share News
admin

admin

Related News Stories