चंद्रबदनी महाविद्यालय में डॉ0 अंबिका प्रसाद उनियाल की पुण्य स्मृति में बैडमिंटन कोर्ट का निर्माण

चंद्रबदनी महाविद्यालय में डॉ0 अंबिका प्रसाद उनियाल की पुण्य स्मृति में बैडमिंटन कोर्ट का निर्माण

गढ़ निनाद समाचार * 28 फरवरी 2021
जामणीखाल (टिहरी): श्री चंद्रहास उनियाल एवं श्री शैलांचल उनियाल द्वारा अपने पिता स्वर्गीय डॉक्टर अंबिका प्रसाद उनियाल की पुण्य स्मृति में राजकीय महाविद्यालय चंद्रबदनी टिहरी गढ़वाल में छात्र छात्राओं के खेलने के लिए एक बैडमिंटन कोर्ट का निर्माण किया गया जिसका उद्घाटन 27 फरवरी 2021 को प्रातः 11:00 बजे मुख्य अतिथि श्री सूरज पाठक ब्लाक प्रमुख देवप्रयाग और प्राचार्य श्रीमती पुष्पा उनियाल के द्वारा दीप प्रज्वलित कर संपन्न किया गया 

सभी अतिथियों का स्वागत डॉ० विनोद कुमार रावत क्रीड़ा प्रभारी के द्वारा किया गया, तत्पश्चात कार्यक्रम का संचालन डॉ० रिचा गहलोत द्वारा किया गया। सर्वप्रथम मुख्य अतिथि द्वारा अपने उद्बोधन में कार्य की सराहना की गई। विशिष्ट अतिथि श्रीमती पिंकी देवी लिंगवाल जिला पंचायत सदस्य ने महाविद्यालय को सौर ऊर्जा देने की घोषणा की। विजयपाल पंवार ज्येष्ठ प्रमुख देवप्रयाग ने भी महाविद्यालय को मदद करने का आश्वासन दिया। 

इस अवसर पर शैलाचल उनियाल, उनकी पत्नी राशि उनियाल और बेटी लवीशि उनियाल उपस्थित थे। शैलांचल उनियाल ने कहा कि उनके पिताजी एक शिक्षक व प्रधानाचार्य रहे हैं, और इस कार्य की प्रेरणा उन्हें अपने पिता से ही प्राप्त हुई है। वह जिस विद्यालय में भी कार्यरत रहे हमेशा उसकी बेहतरी के बारे में सोचते थे।

महाविद्यालय के प्राध्यापक आशुतोष मिश्रा ने कहा कि स्वर्गीय डॉ0 उनियाल की स्मृति में उनके परिवार जनों द्वारा बनाये गए बैडमिंटन कोर्ट से महाविद्यालय के नैक मूल्यांकन में भी अतिरिक्त नंबर मिल जाएंगे।

कार्यक्रम के अंत में महाविद्यालय की प्राचार्या श्रीमती पुष्पा उनियाल ने उपस्थित लोगों से आग्रह किया कि वह डॉ0 उनियाल के दोनों बच्चों को धन्यवाद की बजाए आशीर्वाद दें ताकि वे भविष्य में भी इस प्रकार के कार्यों के लिए प्रेरित होते रहे। उन्होंने अपने महाविद्यालय के सभी प्राध्यापकों एवं कर्मचारियों को उक्त कार्य में सहयोग के लिए धन्यवाद दिया। साथ ही उन्होंने स्थानीय लोगों में ताजवर सिंह पंवार ग्राम प्रधान झल्ड, भगवान सिंह प्रधान ग्राम करास आदि के सहयोग का विशेष आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर प्राचार्या ने भीम सिंह पुंडीर रिटायर्ड सूबेदार का भी महाविद्यालय के गेट की रंगाई-पुताई का कार्य अपने खर्चे पर करवाने के लिया धन्यवाद दिया।

महाविद्यालय प्राचार्या ने कहा कि किसी भी संस्था का विकास सरकार द्वारा दी गई सहायता राशि से होता है जो कि अपने आप में पर्याप्त नहीं है, अगर स्थानीय लोग भी कुछ मदद करें तो हम अपनी आवश्यकता की बहुत सारी योजनाओं को पूरा कर सकते हैं। इस तरह महाविद्यालय के विकास और साधनों में वृद्धि से छात्र-छात्राओं की पढ़ाई में गुणवत्ता के साथ व्यक्तित्व विकास में भी सहायता प्राप्त होती हैं।

नव निर्मित बैडमिंटन कोर्ट के उद्घाटन कार्यक्रम के साथ ही बैडमिंटन खेलने के लिए टीमें बनाई गई। जिसमें अतिथियों, प्राध्यापकों, कर्मचारियों एवं छात्र-छात्रों ने उत्कृष्ट खेल कला का कौशल दिखाया। खेल की समाप्ति पर प्राचार्य द्वारा सभी उपस्थित लोगों का धन्यवाद दिया। इस अवसर पर महाविद्यालय के सभी प्राध्यापक, कर्मचारी गण, छात्र-छात्राएं एवं स्थानीय लोग उपस्थित थे।

Please click to share News