फरार राजीव ‘रज्जी’ ने किया आत्मसमर्पण

गढ़ निनाद समाचार।

नई टिहरी, 7 अप्रैल 2021। विकास खंड  भिलंगना के कुंडी गांव में शिकार कांड के आरोपी राजीव उर्फ रजी ने सीजेएम कोर्ट में किया आत्मसमर्पण कर दिया है। बता दें कि घटना के दिन से ही राजस्व पुलिस रज्जी को जंगलों में ढूंढने का नाटक कर रही थी वहीं रज्जी अपने आत्मसमर्पण की तैयारी में लगा था।

विगत शनिवार को घनसाली ब्लाक के कुंडी ग्राम के चार युवकों की हादसे में मौत हो गयी थी। रविवार चार मार्च 2021 को ग्राम कुंडी, बिनयखाल, पट्टी थाती कठुड़, तहसील बालगंगा (राजस्व क्षेत्र) घनसाली निवासी तीन युवकों अर्जुन सिंह पंवार पुत्र नयन सिंह पवार , उम्र 23 वर्ष, सोबन सिंह पंवार पुत्र केसर सिंह, उम्र 24 वर्ष, और पंकज पंवार पुत्र अब्बल सिंह पंवार, उम्र 23 वर्ष  द्वारा विषाक्त पदार्थ का सेवन किये जाने पर उपरोक्त को बेलेश्वर अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां पर चिकित्सक द्वारा उपरोक्त को मृत घोषित किया गया था।

ग्रामीणों से पूछताछ करने पर ज्ञात हुआ है कि उपरोक्त तीनों व्यक्ति तीन अप्रैल 2021 रात को अपने गांव के अन्य व्यक्तियों संतोष सिंह पंवार पुत्र दिलीप सिंह, उम्र 23 वर्ष, राहुल पंवार पुत्र मोहन सिह पंवार निवासी ग्राम  कुंडी उम्र 20 वर्ष, सुमित पंवार पुत्र कुंदन सिंह पंवार निवासी ग्राम कुंडी उम्र 18 वर्ष तथा रज्जी पुत्र प्रताप सिह नेगी निवासी ग्राम खवाडा तहसील बाल गंगा उपरोक्त के साथ शिकार करने के लिए गांव के ऊपर जंगलों में गये थे।

इस दौरान संतोष सिंह पंवार को गोली लगने के कारण उसकी मृत्यु हो गयी थी। जिसके साथ गये अन्य साथियों द्वारा जंगल से उठाकर गांव से करीब 02 किमी दूर अन्दर जंगल में स्थित गांव की छानी में लाया गया। इसके उपरांत उक्त लोगों द्वारा सलाह की गयी की उनसे बड़ा अपराध हो गया है, अतः अब जीने का कोई लाभ नही । इस प्रकार विचार करते हुए रज्जी उपरोक्त द्वारा वहां पर विषाक्त पदार्थ का इन्तजाम किया गया और अर्जुन सिह , सोबन सिह, पंकज द्वारा उसका सेवन किया गया। राहुल व सुमित को विषाक्त पदार्थ का सेवन इसलिए नही करने दिया गया क्योंकि उनकी उम्र कम होने के साथ-साथ वे घर में इकलोते भी थे अतः उन्हे गांव में जाकर इसकी सूचना गांव वालों को देने की जिम्मेदारी दी गयी। रज्जी तब से फरार चल रहा था। उसने आज सीजेएम कोर्ट टिहरी में आत्मसमर्पण कर लिया है।

Please click to share News