उत्तराखंड में अगले महीने शीतकाल के लिए बन्द हो जाएंगे सभी धाम

उत्तराखंड में अगले महीने शीतकाल के लिए बन्द हो जाएंगे सभी धाम
Pilgrimage rights for the formation of Shrine Board, Hukukdhari Mahapanchayat expressed resentment
Please click to share News


उत्तराखंड में अगले महीने शीतकाल के लिए बन्द हो जाएंगे लगभग सभी धाम

गढ़ निनाद * नई टिहरी

जानिए कब कब कौन धाम शीतकाल में 6 माह के लिए रहेगा बंद।

  • भगवान रुद्रनाथ के कपाट 18 अक्टूबर को बंद।
  • बद्रीनाथ के कपाट 17 नवम्बर को होंगे बंद।
  • केदारनाथ जी के कपाट 29 अक्तूबर को होंगे बंद।
  • भगवान मद्महेश्वर के कपाट 21 नवंबर को होंगे बंद।
  • भगवान तुंगनाथ के कपाट 6 नवंबर को होंगे बंद।
  • गंगोत्री धाम के कपाट 28 अक्तूबर को होंगे बंद।
  • यमुनोत्री धाम के कपाट 29 अक्तूबर को होंगे बंद।



उत्तराखंड में अगले महीने शीतकाल में लगभग सभी धाम 6 माह के लिए बंद हो जायेंगे। आज चतुर्थ केदार भगवान रुद्रनाथ के कपाट पूजा-अर्चना के बाद विधि-विधान से सुबह सात बजे बंद कर दिए गए। भगवान रुद्रनाथ की  डोली गोपेश्वर के गोपीनाथ मंदिर के लिए रवाना हो गई। शीतकाल में छह माह तक भगवान रुद्रनाथ की पूजा-अर्चना गोपीनाथ मंदिर में ही संपन्न होगी। वहीं द्वितीय केदार भगवान मद्महेश्वर के कपाट 21 नवंबर और तृतीय केदार भगवान तुंगनाथ के कपाट 6 नवंबर को विधिवत बंद होंगे।


बदरीनाथ धाम के कपाट 17 नवंबर को शाम 5:13 बजे शीतकाल के लिए बंद कर दिए जाएंगे। केदारनाथ के कपाट परंपरानुसार भैयादूज पर 29 अक्तूबर को सुबह 8:30 बजे शीतकाल के लिए बंद किए जाएंगे।

गंगोत्री धाम के कपाट दीपावली के अगले दिन 28 अक्तूबर को अन्नकूट पर्व पर पूर्वाह्न 11:40 बजे और यमुनोत्री धाम के कपाट 29 अक्तूबर को भैया दूज के दिन बंद किए जाएंगे जो 6 महीने शीतकाल में बंद रहेंगे।


Please click to share News
admin

admin

Related News Stories