सडक हादसे में घायल एस आई माया बिष्ट नहीं रहीं

सडक हादसे में घायल एस आई माया बिष्ट नहीं रहीं
Please click to share News


सडक हादसे में घायल एसआई माया बिष्ट नहीं रहीं

हल्द्वानी * गढ़ निनाद, 27 अक्टूबर

चार दिन मौत से लड़ाई कर जिंदगी की जंग हार गयी दरोगा माया बिष्ट

एसआई माया बिष्ट ने तोड़ा दम: राज्यपाल ड्यूटी के वाहन पलटने के दौरान हुई थी घायल

चार दिन पहले बुधवार २२ अक्टूबर को वीरभट्टी में हुए सड़क हादसे ने राज्यभर के पूरे महकमे में शोक की लहर दौड़ा दी थी। इस हादसे में कॉन्स्टेबल ललित और चालक नंदन सिंह की मौके पर ही मौत हो चुकी थी। काठगोदाम थानाध्यक्ष नंदन सिंह रावत की हालत खतरे से बाहर है। जबकि हादसे में गंभीर रूप से घायल एसआई माया बिष्ट ने भी शनिवार को हॉस्पिटल में दम तोड़ दिया।  मृत्यु की खबर से पूरे पुलिस महकमे में शोक की लहर दौड़ गयी। माया बिष्ट के घर और शहर में भी कोहराम मच गया।

सड़क हादसे में माया बिष्ट के रीढ़ की दो हड्डियों, पसलियों और सिर में काफी चोट लगी है। उन्हें भोटिया पड़ाव स्थित अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गुरुवार को भी उनकी हालत बिगड़ गई तो एसएसपी और एसपी सिटी भोटिया पड़ाव स्थित निजी अस्पताल पहुंचकर चार यूनिट खून उपलब्ध कराया। माया के ब्रेन का सफल ऑपरेशन किया गया था। लेकिन उसके बाद इनकी हालत बिगड़ गई और कल शनिवार को माया बिष्ट ने दम तोड़ दिया।

माया बिष्ट लालकुआं कोतवाली में 3 साल से महिला दरोगा के पद पर तैनात थी। दरोगा माया बिष्ट शादीशुदा थी। वह लालकुआं व्यापार मंडल के दीवान बिष्ट के भाई की पत्नी थीं। उनके पति ईएसआई अस्पताल में कार्यरत है और उन दोनों की एक बेटी भी है। 

संबंधित खबर: राज्यपाल की वीआईपी ड्यूटी पर गया पुलिस वाहन दुर्घटनाग्रस्त, दो घायल दो की मौत भी पढ़े

एसआई माया बिष्ट का चित्रशिला घाट पर अंतिम संस्कार

महिला दरोगा माया बिष्ट को आज नैनीताल रानीबाग के चित्रशिला घाट पर पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। डीआईजी जगतराम जोशी डीएम सवींन बंसल, एसएसपी सुनील कुमार मीणा, एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव, सिटी मजिस्ट्रेट प्रत्युष कुमार, पुलिस अधिकारी राजीव मोहन, हल्द्वानी कोतवाल विक्रम राठौर, लालकुआं कोतवाल योगेश चंद्र उपाध्याय, समेत दर्जनों पुलिस विभाग के सम्मानित लोगों ने पार्थिव शरीर पर पुष्प चक्र अर्पित किये।

चित्रशाला घाट पर शव यात्रा के दौरान पुलिस महकमे के बड़े अधिकारी, कर्मचारी और सैकड़ों की संख्या में दूर-दूर से लोगों की भीड़ उमड़ गयी। पुलिस विभाग व मौजूद नागरिकों ने होनहार और कर्तव्यनिष्ठ महिला अधिकारी को पूरे सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी।


Please click to share News
admin

admin

Related News Stories