पंचतत्व: JASHने BACHपन: वार्षिकोत्सव में बच्चों की रंगारंग प्रस्तुतियां​

पंचतत्व: JASHने BACHपन: वार्षिकोत्सव में बच्चों की रंगारंग प्रस्तुतियां​
Please click to share News


पंचतत्व: JASHने BACHपन: वार्षिकोत्सव में बच्चों की रंगारंग प्रस्तुतियां

यूनिवर्सल अकैडमी देहरादून के दसवें वार्षिकोत्सव “पंचतत्व: JASHने BACHपन” में पर्यावरण बचाओं और देश प्रेम के सन्देश के साथ नन्हे-मुन्हे बच्चों द्वारा रंगारंग कार्यक्रम की प्रस्तुतियां दी गयी

रमेश सिंह रावत * गढ़ निनाद समाचार, देहरादून

यूनिवर्सल अकैडमी, क्लेमेंट टाउन देहरादून के दसवें स्थापना दिवस – पर वार्षिकोत्सव “पंचतत्व: JASHने BACHपन” नामक शीर्षक के साथ बड़ी धूम-धाम से रंगारंग कार्यक्रम आयोजित किये गए। आयोजित वार्षिकोत्सव में अधिकतर कार्यक्रमों में पर्यावरण सरंक्षण और देश प्रेम का सन्देश निहीत था। नन्हे बच्चों के “JASHने BACHपन” कार्यक्रम ने दर्शाकों को बचपन की यादे ताजा करवाई, बड़े बच्चों के वीर सैनिकों की रक्षा और सेवा आधारित नाटक ने लोगों में देशप्रेम की भावना जागृत कर दर्शकों का सम्मान पाया, साथ ही बच्चों के पंचतत्व कार्यक्रम ने समाज में पर्यावरण सरंक्षण का सन्देश भी दिया।


कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ मुख्य अतिथि श्री सुनील उनियाल गामा, महापौर नगर निगम द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। तत्पश्चात गणेश वंदना की प्रस्तुति की गई। विद्यालय की प्रिंसिपल ने मुख्य अतिथि, अभिभावकों, और अन्य मेहमानों का स्वागत संबोधन किया। प्रिंसिपल ने मुख्य अतिथि माननीय सुनील उनियाल गामा जी का कार्यक्रम में पधारने के लिए आभार व्यक्त किया और कार्यक्रम की रूपरेखा के बारे में बताया।

विद्यालय के नन्हे-मुन्हे बच्चों की शानदार प्रस्तुति “JASHने BACHपन” कार्यक्रम देख उपस्थित सभी दर्शकों को अपने बचपन यादें ताजा हो गयी और प्रभावित होकर कार्यक्रम में शामिल बच्चों की सराहना भी की। अन्य प्रस्तुत कार्यक्रम “पंचतत्व” में मानव शरीर व सृष्टि के पांच तत्वों – भूमि, आकाश, हवा, पानी और अग्नि के महत्व के बारे में बताया गया। साथ ही इन तत्वों के असंतुलित व प्रदूषित होने से नुकसान और खतरों के बारे में जागरूकता का सन्देश देकर भूमि, आकाश, हवा, पानी और अग्नि के संतुलन व सरंक्षण का सन्देश अत्यंत खूबसूरती के साथ प्रस्तुत किया।


बच्चों द्वारा देश प्रेम की अनुभूति प्रदर्शित करने हेतु आयोजित नाटक – जिसमें एक तरफ कुछ गरीब नौजवान मजबूरीवस आतंकवाद की लपेट में आ जाते है, और वहीं दूसरी तरफ देश प्रेम की भावना से प्रेरित नौजवान देश की सेना में भर्ती होकर देश की रक्षा के साथ-साथ अपनी जान की परवाह किये बिना नागरिओं की जान बचाने का साहसिक काम कर बड़ा फर्ज निभाते है। इस कार्यक्रम की शानदार प्रस्तुति और जानदार सन्देश पर मुख्य अतिथि समेत सभी उपस्थित दर्शकों ने खड़े होकर तालियां बजाकर सराहना की।

विद्यालय में स्थापना दिवस के उपलक्ष प्रतियोगितायें आयोजित

विद्यालय में स्थापना दिवस से पूर्व अलग-अलग वर्ग के बच्चों के बीच में कई प्रतियोगितायें आयोजित की गयी। जिसमें विद्यालय में एक बार उपयोग होने वाले प्लास्टिक “सिंगल यूज़ प्लास्टिक” विषय पर 23 अक्टूबर को पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया। प्रतियोगिता में विद्यालय के अधिकतर विद्यार्थिओं ने उत्साह के साथ भाग लिया और पेंटिंगस के माध्यम से विद्यार्थयों ने प्रभावी उपाय भी सुझाये। 

विद्यालय की निदेशक श्रीमती प्रिया अग्रवाल ने भी उपस्थित मेहमानों के स्वागत सम्बोधन किया और बताया कि विद्यालय के दसवीं और बारवीं कक्षा के छात्रों ने नगर निगम द्वारा पांच दिसंबर को आयोजित विशाल मानव श्रृंखला में हिस्सा लेकर सिंगल यूज़ प्लास्टिक का पूर्ण रूप से बहिष्कार करने का जनता को सन्देश दिया।

विद्यालय के अध्यक्ष श्री सुनीत पाल अग्रवाल ने बच्चों व शिक्षकों का शानदार कार्यक्रमों की प्रस्तुतिओं के लिए सराहना कर धन्यवाद दिया, और बताया कि आयोजित कार्यक्रम में विद्यालय के लगभग 700 बच्चों ने बड़े उत्साह के साथ भाग लिया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि महापौर श्री सुनील उनियाल गामा ने छात्र-छात्राओं के शानदार कराक्रमों की सराहना कर बच्चों द्वारा दिए गए देश प्रेम और पर्यावरण सरंक्षण के सन्देश की बहुत प्रशंसा की. साथ ही मुख्य अतिथि ने उपस्थित लोगों को एक बार उपयोग होने वाले प्लास्टिक “सिंगल यूज़ प्लास्टिक” का पूर्ण त्याग करने के निवेदन भी किया। 


समारोह के समापन पर मुख्य अतिथि ने विभिन्न प्रतियोगिताएं और वार्षिक कार्यक्रमों में अवल प्रदर्शन के लिए पृथ्वी सदन के बच्चों और शिक्षकों को वार्षिक ट्रॉफी प्रदान की और शुभकामनायें दी।

वार्षिकोत्सव के कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के तौर पर सीबीएसई के क्षेत्रीय अधिकारी श्री मान रणबीर सिंह, विद्यालय के संस्थापक श्री मान धर्मपाल अग्रवाल जी, विद्यालय के अध्यक्ष सुनीत पाल अग्रवाल, विद्यालय की निदेशक श्रीमती प्रिया अग्रवाल, प्राचार्य, शिक्षक, सैकड़ों अभिभावक, बच्चें और अन्य मेहमान उपस्थित थे।


Please click to share News
admin

admin

Related News Stories