प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया के सपने की ओर एक और कदमः मुख्यमंत्री

प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया के सपने की ओर एक और कदमः मुख्यमंत्री
Please click to share News


मुख्यमंत्री ने किया ई-जीवन प्रमाण पत्र का लोकार्पण

गढ़ निनाद न्यूज़ * 7 फरवरी 2020

देहरादून: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा शुक्रवार को मुख्यमंत्री आवास में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के डिजिटल भारत के सपने को साकार करने की दिशा में एक और कदम बढ़ाते हुए डिजिटल माध्यम से ई-जीवन प्रमाण पत्र प्रदान करने हेतु आईएफएमएस सॉफ्टवेयर का शुभारम्भ किया गया। इस सॉफ्टवेयर की सहायता से राज्य के पेंशनर देश या विदेश, कहीं से भी अपना ई-जीवन प्रमाण पत्र ऑनलाइन माध्यम से जमा करा सकेंगे।

ई-जीवन प्रमाण पत्र को सीएससी केन्द्र से भरा जा सकेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस सेवा के शुरू होने से प्रदेश के दूरस्थ क्षेत्रों के लोगों को ट्रेज़री के चक्कर लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। वे पास के सीएससी केन्द्र से अपना ई-जीवन प्रमाण पत्र ऑनलाइन जमा करा सकेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश लगातार पेपरलेस व्यवस्था की  दिशा में आगे बढ़ रहा है।

सचिव अमित नेगी ने बताया कि सीएससी के लोगों के साथ इस संबंध में बैठक एवं ट्रेनिंग प्रोग्राम आयोजित किए जा रहे हैं। ई-जीवन प्रमाण पत्र को कोषागार, उप कोषागार, सीएससी केन्द्र, पर्सनल कंप्यूटर, टैब और मोबाईल ऐप से भी भरा जा सकेगा, स्वीकृत होने पर इसकी सूचना मोबाईल नंबर और ई मेल आईडी पर भी उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि कोषागार, पेंशन एवं हकदारी विभाग लगातार डिजिटल की दिशा में अग्रसर हो रहा है। लगभग 1,56,000 कर्मचारियों की पे रोल ई सिस्टम से जेनरेट की का रही है। लगभग 1,52,000 पेंशनर्स और न्यू पेंशन स्कीम को भी ई गवर्नेंस से जोड़ दिया गया है।

इस अवसर पर विधायक गणेश जोशी, मुख्यमंत्री के आईटी सलाहकार रवीन्द्र दत्त, सचिव अमित नेगी एवं निदेशक कोषागार, पेंशन एवं हकदारी पंकज तिवारी भी उपस्थित थे।


Please click to share News
admin

admin

Related News Stories