हुन्डई को भाया ग्राफिक एरा के छात्र का एक्सिडेण्ट रोकने का फार्मूला

हुन्डई को भाया ग्राफिक एरा के छात्र का एक्सिडेण्ट रोकने का फार्मूला

गढ़ निनाद समाचार * 23 मार्च 2021।

देहरादून। नामी कार कम्पनी हुन्डई को ग्राफिक एरा के भगवती प्रसाद जोशी का दुर्घटना रोकने और लोगो की जान बचाने वाला फार्मूला बहुत पसंद आया है। हुन्डई ने भगवती के इस फार्मूले पर काम आगे बढ़ाने का मौका दिया है। भगवती का यह फार्मूला त्रीव मोड़ पर होने वाली दुर्घटनाओं को रोकने की नई टेक्नोलाजी का तोहफा बन सकता है।

देशभर के 10,000 छात्रों के आईडियास में से ग्राफिक एरा हिल युनिवर्सिटी के एमसीए के पहले वर्ष के छात्र भगवती प्रसाद के आईडिया को विश्व प्रसिद्ध कम्पनी हुन्डई ने पहला स्थान दिया हैं। इसके लिए उन्हें15 लाख का सीड कैपिटल दिया गया है। 

भगवती प्रसाद ने बताया कि अल्ट्रासोनिक सेंसर डिवाइस और इण्टेलिजेंस चिप की मदद से मोड़ो पर आने वाले खतरे जैसे अचानक किसी जानवर के आ जाने या त्रीव गती से दूसरी ओर से किसी गाड़ी के आ जाने को भांपा जा सकता है। इसके लिए रेड सिग्नल और हूटर जैसे डिवाइस को मोड़ो पर इंस्टाल किया जा सकता है जोकि इण्टेलिजेंस चीप से रियल टाइम डेटा लेकर रेड सिग्नल दिखा दे।

भगवती प्रसाद जोशी चमोली जिले के नारायण बगड़ पट्टी के चिकुडा गांव के निवासी हैं जिनके पिता मोहन प्रसाद आर्मी से सेवा निवृत्त हैं।

ग्राफिक एरा ग्रुप के अध्यक्ष डा. कमल घनशाला ने भगवती प्रसाद को बधाई देते हुए कहा कि ग्राफिक एरा का माहौल आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है। यही वजह है कि ग्राफिक एरा के शिक्षक और छात्र दुनियां को नई नई खोजों का उपहार दे रहे हैं। 

Please click to share News