गुड़गांव, 6 मई 2021। गढ़ निनाद ब्यूरो।

राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी अजीत सिंह का निधन हो गया है। वह 20 अप्रैल को कोरोना संक्रमित हुए थे। उनका इलाज गुरुग्राम के एक प्राइवेट अस्पताल में सजल रहा था। मंगलवार रात से ही उनकी हालत नाजुक बताई जा रही थी। उनके फेफड़ों में संक्रमण बढ़ने के कारण उनकी हालत नाजुक हो गई थी। 

अजित सिंह के बेटे और पूर्व सांसद जयंत चौधरी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट ट्विटर पर इसकी जानकारी देते हुए लिखा, ‘चौधरी साहब नहीं रहे।’ जयंत ने बताया कि अजीत सिंह 20 अप्रैल को कोरोना संक्रमित हुए थे और 6 मई की सुबह उन्होंने इस बीमारी से लड़ते हुए दम तोड़ दिया।

जयंत ने लिखा, ‘अंतिम समय तक भी चौधरी साहब संघर्ष करते रहे। जीवन पथ पर चलते हुए चौधरी साहब को बहुत लोगों का साथ मिला। ये रिश्ते चौधरी साहब के लिए हमेशा प्रिय थे। चौधरी साहब ने आप सबको अपना परिवार माना और आप ही के लिए हमेशा चिंता की।’ जयंत चौधरी ने आगे लिखा, ‘इस दुख और महामारी के काल में हमारी आप से प्रार्थना है कि अपना पूरा ध्यान रखें, संभव हो तो अपने घर पर रहें और सावधानी जरूर बरतें। ये ही चौधरी साहब को सच्ची श्रद्धांजलि होगी।’

वह बागपत से 7 बार सांसद और केंद्रीय मंत्री रह चुके हैं। 2001 से 2003 तक अटल बिहारी सरकार में वह कृषि मंत्री और 2011 में मनमोहन सरकार में नागरिक उड्डयन मंत्री रह चुके हैं। 2019 लोकसभा चुनाव में उन्होंने मुजफ्फरनगर से चुनाव लड़ा था लेकिन हार झेलनी पड़ी थी।  

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी अजीत सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया। राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘राष्ट्रीय लोक दल प्रमुख अजीत सिंह जी के असमय निधन का समाचार दुखद है। उनके परिवार और प्रियजनों को मेरी संवेदनाएं।’ उधर केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई नेताओं ने भी अजीत सिंह को श्रद्धांजलि दी। 

Please click to share News