बेसहारा पशुओं का सहारा बनीं सेना की रिटायर्ड अधिकारी, पीएम मोदी ने की तारीफ

बेसहारा पशुओं का सहारा बनीं सेना की रिटायर्ड अधिकारी, पीएम मोदी ने की तारीफ
Please click to share News


मेजर प्रमिला सिंह (से नि) अपनी जमा-पूंजी से सड़कों पर घूम रहे जानवरों के खानपान और उपचार की व्यवस्था की

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजस्थान की कोटा निवासी और भारतीय सेना से बतौर मेजर सेवानिवृत्त हुईं प्रमिला सिंह को उनके दया भाव और सेवा कार्य के लिए पत्र लिखकर सराहा है। 

दरअसल कोरोना में लॉकडाउन के दौरान जहां लोग अपने-अपने घरों में राशन पानी की व्यवस्था में जुटे थे, उसी समय मेजर प्रमिला सिंह ने अपने पिता श्यामवीर सिंह के साथ मिलकर बेजुबान और बेसहारा जानवरों की सुध ली, उनका दु:ख-दर्द समझा और उनकी मदद के लिए आगे आईं। मेजर प्रमिला और उनके पिताजी ने अपनी जमा पूंजी से सड़कों पर आवारा घूम रहे जानवरों के खानपान और उपचार की व्यवस्था की। 

प्रधानमंत्री मोदी ने मेजर प्रमिला की तारीफ करते हुए उनके प्रयास को समाज के लिए प्रेरणा स्रोत बताया है। प्रधानमंत्री ने पत्र में आगे लिखा है, ‘पिछले लगभग डेढ़ वर्षों में हमने अभूतपूर्व परिस्थितियों का सामना मजबूती से किया है। यह एक ऐसा ऐतिहासिक कालखंड है जिसे लोग जीवन भर नहीं भूल सकेंगे। यह न केवल इंसानों के लिए बल्कि मानव के सानिध्य में रहने वाले अनेक जीवों के लिए भी कठिन दौर है। ऐसे में आपका बेसहारा जानवरों के दुःख-दर्द व जरूरतों के प्रति संवेदनशील होना व उनके कल्याण के लिए व्यक्तिगत स्तर पर पूरे सामर्थ्य से कार्य करना सराहनीय हैं।’

इससे पहले मेजर प्रमिला सिंह ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर बताया था कि जानवरों की देखभाल करने का जो काम उन्होंने लॉकडाउन के समय शुरू किया था वह आज तक जारी है। 


Please click to share News
Govind Pundir

Govind Pundir