राष्ट्रीय शिक्षा नीति छात्रो के सर्वांगीण विकास मे मील का पत्थर साबित होगा: प्रोफेसर अग्रवाल

राष्ट्रीय शिक्षा नीति छात्रो के सर्वांगीण विकास मे मील का पत्थर साबित होगा: प्रोफेसर अग्रवाल
Please click to share News


टिहरी गढ़वाल, 26 सितंबर 2022। शहीद श्रीमती हंसा धनाई राजकीय महाविद्यालय अगरोड़ा टिहरी गढ़वाल मे प्राचार्य प्रोफेसर विनोद प्रकाश अग्रवाल के दिशा निर्देश मे राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 विषय पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया। प्राचार्य प्रो० अग्रवाल ने नई शिक्षा नीति की आवश्यकता, उद्देश्यो तथा महत्व के बारे मे नव प्रवेशित छात्र-छात्राओ को विस्तृत रूप से जानकारी दी।

इस अवसर पर उन्होंने कहा की नई शिक्षा नीति छात्र-छात्राओं के सर्वागीण विकास व शिक्षा को और अधिक रोजगार परक बनाने मे मील का पत्थर साबित होगा। कार्यक्रम के संयोजक एवं गणित विभाग के विभाग प्रभारी डॉ० अजय कुमार ने पीपीटी के माध्यम से नई शिक्षा नीति के तहत विषय संयोजन एवं चुनाव, क्रेडिट सिस्टम, परीक्षा प्रणाली तथा विषय की उपयोगिता से छात्र-छात्राओ को परिचित कराया।

इसके बाद अंग्रेजी विभाग के विभाग प्रभारी डॉ० अजय कुमार सिंह, भूगोल विभाग के विभाग प्रभारी डॉ० विजय राज उनियाल, भौतिक विज्ञान के विभाग प्रभारी श्री अमित कुमार सिंह, हिंदी विभाग के विभाग प्रभारी श्रीमती सीमा, राजनीतिक विज्ञान के विभाग प्रभारी श्रीमती कृतिका नेगी, रसायन विज्ञान के विभाग प्रभारी डॉ० राकेश रतूड़ी, जंतु विज्ञान के विभाग प्रभारी डॉ० बबीता बंटवाण एवं वनस्पति विज्ञान के विभाग प्रभारी डॉ० भरत गिरी गोसाई द्वारा अपने व्याख्यानो के माध्यम से नई शिक्षा नीति के अनुसार पाठ्यक्रम, समय-सारणी, क्रेडिट सिस्टम, विषयों की उपयोगिता और रोजगार के अवसरो आदि विभिन्न आयामो पर विस्तृत रूप से प्रकाश डाला गया।

इस दौरान संगोष्ठी मे छात्र-छात्राओं द्वारा विषय चयन तथा अन्य मुद्दों पर पूछे गए प्रश्नों एवं जिज्ञासाओ का प्राचार्य द्वारा गठित नई शिक्षा नीति समिति के सदस्यो द्वारा समाधान किया गया।

कार्यक्रम का संचालन डॉ० भरत गिरी गोसाई द्वारा किया गया। उन्होंने बताया कि नवीन राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 स्वतंत्र भारत की ऐसी पहली शिक्षा नीति है जिसका लक्ष्य सांस्कृतिक मूल्यो को बरकरार रखते हुए छात्र-छात्राओं मे रचनात्मक, संज्ञानात्मक, नैतिकतात्मक एवं भावनात्मक क्षमताओ का विकास करना है।

अंत मे भूगोल विभाग के सहायक प्राध्यापक डॉ० प्रमोद रावत द्वारा सभी प्राध्यापको, कर्मचारियो एवं विद्यार्थियों का धन्यवाद ज्ञापित किया गया। डॉ० रावत ने उत्तराखंड सरकार का भी धन्यवाद किया जिन्होंने इसी सत्र से उत्तराखंड राज्य मे नई शिक्षा नीति को लागू कर अपनी दृढ़ इच्छा शक्ति एवं प्रतिबद्धता को जाहिर किया है।

इस अवसर पर महाविद्यालय के सहायक प्राध्यापक डॉ० बिशन लाल, डॉ० नेपाल सिंह, डॉ० छत्र सिंह कठायत एवं छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।


Please click to share News
Govind Pundir

Govind Pundir

Related News Stories