सुमाड़ी में NIT का पुनः शिलान्यास व भूमिपूजन: चरणबद्ध तरीके से निर्माण का वादा

सुमाड़ी में NIT का पुनः शिलान्यास व भूमिपूजन: चरणबद्ध तरीके से निर्माण का वादा
Please click to share News


नई टिहरी/पौड़ी * गढ़ निनाद ब्यूरो

वर्ष 2009 में सुमाड़ी में NIT निर्माण की स्वीकृति के बाद 2014 में तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत जिस NIT का शिलान्यास कर चुके हैं,उसी के स्थायी कैंपस का राज्यपाल बेबी रानी मौर्य,मानव संसाधन मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक और सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पौड़ी के सुमाड़ी में NIT भूमि पूजन कर शिलान्यास किया।

लगभग एक दशक के लंबे इंतजार के बाद सुमाड़ी में NIT को स्थायी परिसर मिलने जा रहा है। ज्ञातव्य है कि वर्ष 2009 में NIT सुमाड़ी के निर्माण को स्वीकृति मिली थी। जिसके बाद वर्ष 2014 में तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत भी NIT का शिलान्यास सुमाड़ी में कर चुके हैं, लेकिन बीते 9 सालों से NIT का स्थायी परिसर आज तक बन कर तैयार नहीं हो पाया जो एक विडम्बना ही है।

NIT को अभी तक श्रीनगर के पॉलीटेक्निक कॉलेज में संचालित किया जा रहा है। लंबे समय से कवायद के बाद आज NIT सुमाड़ी में स्थायी परिसर के निर्माण के लिए भूमि का शिलान्यास कर दिया गया है।सुमाड़ी में कार्यक्रम के पश्चात राज्यपाल, मुख्यमंत्री, एचआरडी मंत्री समेत तमाम राजनीतिक हस्तियों और अधिकारियों ने स्थायी परिसर के मानचित्र पर हस्ताक्षर भी किए गए।

NIT सुमाड़ी का निर्माण चरणबद्ध ढंग से किया जाएगा। प्रथम फेज में 1260 छात्र-छात्राओं के लिए व्यवस्था की जाएगी। साइट डेवलेपमेंट के बाद दूसरे फेज का निर्माण होगा। सुमाड़ी में एनआईटी के स्थायी परिसर के निर्माण के लिए संस्थान को 310 एकड़ भूमि मिली है। इसमें प्रथम चरण में 50 एकड़ भूमि में काम होगा।

एनआईटी के निदेशक प्रो. एसएल सोनी ने बताया कि प्रथम चरण की निर्माण लागत लगभग 641 करोड़ आंकी गई है। निर्माण कार्य का जिम्मा सीपीडब्ल्यूडी को दिया गया है। सीपीडब्ल्यूडी इसे 30 महीने में पूरा करेगी। उन्होंने बताया कि छात्रों और स्टाफ के लिए आवास की पूर्ण व्यवस्था होगी। यहां 500 की क्षमता वाला प्रेक्षागृह, गेस्ट हाउस, स्मार्ट क्लासरुम, वातानुकूलित कक्षाएं, 10 बेड का अस्पताल व कम्युनिटी सेंटर का निर्माण होगा।


Please click to share News
admin

admin

Related News Stories