पेटेंट फाइल कर देश और समाज के विकास में भागिदार बने: बी पी सिंह

पेटेंट फाइल कर देश और समाज के विकास में भागिदार बने: बी पी सिंह
Please click to share News


5 मार्च, 2020 * गढ़ निनाद न्यूज़

देहरादून: ग्राफ़िक एरा यूनिवर्सिटी में आयोजित व्याख्यान में श्री बी पी सिंह, जॉइंट कंट्रोलर, पेटेंट और डिजाइन, बौद्धिक सम्पदा, भारत सरकार ने बताया कि इन्वेंशन्स के पेटेंट फाइल करें और आर्थिक लाभ कमाएं। उन्होंने आईपीआर सेल, इंस्टीट्यूट इनोवेशन काउंसिल और कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग विभाग, ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी द्वारा “पेटेंट रणनीति पर संगोष्ठी” विषय पर आयोजित सेमिनार में व्याख्यान देते हुये बताया की अमेरिका, जापान और चीन आदि देशों की जीडीपी में पेटेंट्स की अहम हिस्सेदारी है। साथ ही जानकारी दी कि बौद्धिक सम्पदा भारत (आई पी इंडिया) भारत सरकार ने भी पेटेंट्स फाइल करने के प्रोसेस को सरल बनाने के लिए ऑनलाइन सुविधा के साथ मोबाइल एप्प भी बनाया है।   

कार्यक्रम के शुरुवात में यूनिवर्सिटी के चांसलर प्रो० (डॉ०) आर सी जोशी ने इनोवेशन और पेटेंट्स के बारे में जानकारी दी और बताया कि यूनिवर्सिटी में पेटेंट्स फाइल करने और रिसर्च के बारे में एक सकारात्मक माहौल है और सुविधाएँ भी जाती हैं।

ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी द्वारा “पेटेंट रणनीति पर संगोष्ठी” विषय पर आयोजित सेमिनार में श्री बी पी सिंह, जॉइंट कंट्रोलर, पेटेंट और डिजाइन, बौद्धिक सम्पदा, भारत सरकार व्याख्यान देते हुये. @ErRSRawat @bpsramanIP#ipr#patents#copyright#ipo#patents&design#ipindia#geuofficial pic.twitter.com/z4pDVOJSWA

— Garh Ninad (@GarhNinad) March 6, 2020

श्री सिंह ने आईपीआर के अंतर्गत पेटेंट्स, कॉपीराइट और डिज़ाइन सुरक्षा के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया की केवल इन्वेंशंस/आविष्कार ही पेटेंट्स के लिए फाइल किये जा सकते है, किसी प्रकार की खोज भारत में पेटेंट्स के लिए फाइल नहीं की जा सकती है। साथ ही उन्होंने आईपीआर की महत्ता और सामाजिक सेवा हेतु उपयोगीता पर चर्चा की और आईपीआर सुरक्षा व लाभ के बारे में भी जानकारी दी। प्रतिभगियों के विभिन्न प्रश्नों के उत्तर देने के साथ ही उन्होंने आईपीआर की तकनीकी व नियमों पर भी चर्चा की। आगे उन्होंने बताया कि कैसे हल्दी के सर्जिकल गुण के कारण, बासमती के खास बीज और नीम आदि के पेटेंट्स फाइल किये गए।

इस अवसर पर प्रोफेसर (डॉ0) नागराजा, प्रो वाईस चांसलर, प्रोफेसर (डॉ0) डी0 आर0 गंगोदकर, डीन इंटरनेशनल अफेयर्स, डॉ० वारिज पंवार, इंचार्ज आईपी सेल, रमेश रावत कंप्यूटर साइंस एवं इंजीनियरिंग, डॉ० कुमुद पंत बायोटेक्नोलॉजी, ब्रजेश प्रसाद मैकेनिकल इंजीनियरिंग और 100 से अधिक शोधार्थियों  व छात्रों ने सेमिनार में हिस्सा लिया।

सम्बंधित खबरें भी पढ़ें:


Please click to share News
admin

admin

Related News Stories